Friday, April 16, 2021

नवागांव-सल्का में गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए पीएचई मंत्री

Must Read

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध मे वर्चुअल रूप से...

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रसार की...

कलेक्टर ने तैयारियो का लिया जायजा तत्काल सेवा शुरू करने के दिए निर्देश

डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और बढ़ाया जा रहा है’डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और...

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य राकेश खरे,बिलासपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के कार्यकारी...

सफेद झंडे की तरह जीवन को रखें बेदाग- श्री रूद्रकुमार
नवागांव-सल्का में गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए पीएचई मंत्री


5 गांवों में नलजल एवं पाईप लाईन विस्तार और हर घर में मुफ्त नल कनेक्शन देने की घोषणा
बिलासपुर 14 जनवरी 2021। जैतखंभ में लगा हुआ सफेद झंडा साफ, सुंदर, स्वच्छ बेदाग होता है। इसी तरह अपने जीवन में वाणी, आत्मा और शरीर को स्वच्छ, बेदाग रखें तभी जीवन सफल है। यही संत गुरू घासीदास बाबाजी का संदेश भी है। यह उद्गार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री रूद्रकुमार ने आज कोटा विकासखण्ड के ग्राम नवागांव-सल्का में गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में व्यक्त किया।


पीएचई मंत्री श्री रूद्रकुमार ने नवागांव-सल्का में सिद्ध बाबा दलहा पहाड़ के नीचे आयोजित 7 दिवसीय आस्था मेला का शुभारंभ किया। परिसर में विधायक निधि से निर्मित नये सांस्कृतिक मंच का उद्घाटन किया और और जन सहभागिता से बनाये गये नये जैतखंभ में पूजा अर्चना कर बाबा जी से प्रदेश के खुशहाली के लिये प्रार्थना की।

इस अवसर पर श्री रूद्रकुमार ने कहा कि बाबा गुरूघासीदास जी ने सत्य, अहिंसा और समानता का मार्ग दिखाया। बाबा जी का यह संदेश था कि जीवन में ऐसा कोई कार्य न करें, जिससे दूसरों को तकलीफ हो। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में लोग पूजा अर्चना कर बाबा जी का आशीर्वाद लेने आते हैं, साथ ही मेले का आनंद भी उठाते हैं। विगत 21 वर्षों से आयोजित इस मेले में समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को एक साथ देखकर उन्हें याद आ रहा है कि उनके द्वारा निकाले गये सतनाम संदेश यात्रा में केवल सतनामी समाज ही नहीं, बल्कि कुर्मी, ब्राम्हण, साहू, मुस्लिम, सिख आदि समाज के लोग भी जुड़े और संदेश यात्रा का जगह-जगह स्वागत कर बाबाजी का आशीर्वाद लिया है। वही दृश्य इस मेले में भी दिखाई दे रहा है, जहां विभिन्न समाजों के लोग मिल-जुलकर पूजा अर्चना करते हैं और मेले का आनंद उठाते हैं।
इस अवसर पर श्री रूद्रकुमार ने मेला स्थल पर पानी टंकी निर्माण के साथ-साथ पाईप लाईन विस्तार की घोषणा की और मेला समिति को आवश्यक सामग्री खरीदने के लिये 25 हजार रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की। पीएचई मंत्री ने ग्राम पंचायत नवागांव-सल्का, अमाली, लमकेना और धूमा में नल जल और पाईप लाईन विस्तार की घोषणा की तथा खैरझिटी में नल जल के साथ-साथ बोर स्थापित करने की घोषणा भी की। उन्होंने यह भी घोषणा की कि प्रत्येक घर में नल का मुफ्त कनेक्शन भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पाईप लाईन का विस्तार होगा तो महिलाओं को सबसे ज्यादा सहूलियत होगी। पीएचई मंत्री ने बताया कि नगर पंचायत कोटा में 18 करोड़ 50 लाख की लागत से निर्मित होने वाले जल आवर्धन योजना का टेंडर हो गया है तथा दस दिन के भीतर कार्य चालू हो जाएगा। इस योजना से कोटा शहर में पानी की समस्या नहीं होगी। इस अवसर पर कोटा विधायक श्रीमती रेणु जोगी भी उपस्थित थी। श्रीमती जोगी ने दलहा पहाड़ के उपर मंच निर्माण के लिये 2 लाख रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की।
इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री राजेश्वर भार्गव, राजमहंत श्री दीवान चंद सोनवानी, श्री बसंत अंचल सहित सतनामी समाज एवं अन्य समाजों के सदस्य, क्षेत्र के जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण बड़ी संख्या में

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More Articles Like This

सफेद झंडे की तरह जीवन को रखें बेदाग- श्री रूद्रकुमार
नवागांव-सल्का में गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए पीएचई मंत्री


5 गांवों में नलजल एवं पाईप लाईन विस्तार और हर घर में मुफ्त नल कनेक्शन देने की घोषणा
बिलासपुर 14 जनवरी 2021। जैतखंभ में लगा हुआ सफेद झंडा साफ, सुंदर, स्वच्छ बेदाग होता है। इसी तरह अपने जीवन में वाणी, आत्मा और शरीर को स्वच्छ, बेदाग रखें तभी जीवन सफल है। यही संत गुरू घासीदास बाबाजी का संदेश भी है। यह उद्गार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री रूद्रकुमार ने आज कोटा विकासखण्ड के ग्राम नवागांव-सल्का में गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में व्यक्त किया।


पीएचई मंत्री श्री रूद्रकुमार ने नवागांव-सल्का में सिद्ध बाबा दलहा पहाड़ के नीचे आयोजित 7 दिवसीय आस्था मेला का शुभारंभ किया। परिसर में विधायक निधि से निर्मित नये सांस्कृतिक मंच का उद्घाटन किया और और जन सहभागिता से बनाये गये नये जैतखंभ में पूजा अर्चना कर बाबा जी से प्रदेश के खुशहाली के लिये प्रार्थना की।

इस अवसर पर श्री रूद्रकुमार ने कहा कि बाबा गुरूघासीदास जी ने सत्य, अहिंसा और समानता का मार्ग दिखाया। बाबा जी का यह संदेश था कि जीवन में ऐसा कोई कार्य न करें, जिससे दूसरों को तकलीफ हो। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में लोग पूजा अर्चना कर बाबा जी का आशीर्वाद लेने आते हैं, साथ ही मेले का आनंद भी उठाते हैं। विगत 21 वर्षों से आयोजित इस मेले में समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को एक साथ देखकर उन्हें याद आ रहा है कि उनके द्वारा निकाले गये सतनाम संदेश यात्रा में केवल सतनामी समाज ही नहीं, बल्कि कुर्मी, ब्राम्हण, साहू, मुस्लिम, सिख आदि समाज के लोग भी जुड़े और संदेश यात्रा का जगह-जगह स्वागत कर बाबाजी का आशीर्वाद लिया है। वही दृश्य इस मेले में भी दिखाई दे रहा है, जहां विभिन्न समाजों के लोग मिल-जुलकर पूजा अर्चना करते हैं और मेले का आनंद उठाते हैं।
इस अवसर पर श्री रूद्रकुमार ने मेला स्थल पर पानी टंकी निर्माण के साथ-साथ पाईप लाईन विस्तार की घोषणा की और मेला समिति को आवश्यक सामग्री खरीदने के लिये 25 हजार रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की। पीएचई मंत्री ने ग्राम पंचायत नवागांव-सल्का, अमाली, लमकेना और धूमा में नल जल और पाईप लाईन विस्तार की घोषणा की तथा खैरझिटी में नल जल के साथ-साथ बोर स्थापित करने की घोषणा भी की। उन्होंने यह भी घोषणा की कि प्रत्येक घर में नल का मुफ्त कनेक्शन भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पाईप लाईन का विस्तार होगा तो महिलाओं को सबसे ज्यादा सहूलियत होगी। पीएचई मंत्री ने बताया कि नगर पंचायत कोटा में 18 करोड़ 50 लाख की लागत से निर्मित होने वाले जल आवर्धन योजना का टेंडर हो गया है तथा दस दिन के भीतर कार्य चालू हो जाएगा। इस योजना से कोटा शहर में पानी की समस्या नहीं होगी। इस अवसर पर कोटा विधायक श्रीमती रेणु जोगी भी उपस्थित थी। श्रीमती जोगी ने दलहा पहाड़ के उपर मंच निर्माण के लिये 2 लाख रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की।
इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री राजेश्वर भार्गव, राजमहंत श्री दीवान चंद सोनवानी, श्री बसंत अंचल सहित सतनामी समाज एवं अन्य समाजों के सदस्य, क्षेत्र के जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण बड़ी संख्या में