Friday, April 16, 2021

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मोर्चा संभाला

Must Read

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध मे वर्चुअल रूप से...

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रसार की...

कलेक्टर ने तैयारियो का लिया जायजा तत्काल सेवा शुरू करने के दिए निर्देश

डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और बढ़ाया जा रहा है’डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और...

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य राकेश खरे,बिलासपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के कार्यकारी...

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मोर्चा संभाला

बिलासपुर। प्रदेश में बढ़ते कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए महिला बाल विकास विभाग से संबंधित आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने पुनः गत वर्ष की तरह कोरोना से लोगों को बचाने मोर्चा संभाल लिया है। ज्ञातव्य हो गत 1 अप्रैल से निगम आयुक्त और महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों के संयुक्त आह्वान पर शहर भर के सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रत्येक वार्ड में कोरोनावायरस से बचाव के लिए लोगों को जागरूक अभियान के तहत सतत सचेत किया जा रहा है। साथ ही लोगों को समझाइश दी जा रही है। लोगों को डिस्टेंस बनाए रखने व सेनीटाइजर का प्रयोग करने व मास्क लगाकर एक उचित डिस्टेंस के साथ आवश्यकता पड़ने पर बाहर निकलने की सलाह दी जा रही है।
नगर के प्रत्येक वार्ड में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा सुबह आठ बजे से सायं चार बजे तक प्रत्येक घर में दस्तक देकर लोगों से मिलकर उन्हें जागरूक किया जा रहा है। व संक्रमण से बचे रहने के लिए उचित साधन अपनाने का उपाय बताया जा रहा है।
वार्ड क्रमांक 34 में अपने कार्य के दौरान सरजू बगीचा के इलाके में काम करती हुई छत्तीसगढ़ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ की प्रदेश कोषाध्यक्ष श्रीमती सुनीता सिंह ने बताया कि इस कार्य के दौरान हम लोगों को निगम से अधिकृत किया गया है। हम लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए जानकारी देकर उन्हें प्रेरित भी कर रहे हैं और पर्ची बनाकर उन्हें निकटतम वैक्सीनेशन सेंटर में टीका लगवाने के लिए भेज रहे हैं और बुजुर्ग या जिनको सहयोग की आवश्यकता है उन्हें पूरा सहयोग भी प्रदान कर रहे हैं।

श्रीमती सुनीता सिंह ने काके 1 अप्रैल से कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए शासन प्रशासन द्वारा वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है इसमें स्वास्थ्य कर्मियों के साथ साथ हम महिला बाल विकास विभाग के समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने भी मोर्चा संभाल कर शासन के साथ कंधा मिलाते हुए सामाजिक सुरक्षा की बागडोर संभाल ली है और यह बीड़ा उठाया है कि कोरोना के इस दूसरे लहर में जितना हो सके लोगों को सचेत करें और इससे बचने के लिए वैक्सीन लगाने हेतु उन्हें वैक्सीनेशन सेंटर में भेजें।

इस कार्य में प्रतिदिन प्रातः 8:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक हम सभी लोग लगभग 200 ढाई सौ घरों में घर-घर जाकर जनसंपर्क करते हुए उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेकर और उनको जो भी आवश्यकतानुसार सहयोग होता है उसे दे रहे हैं साथ ही अगर वैक्सीन नहीं लगवाया गया है तो उन्हें तत्काल उनके घर पर ही पर्ची काट कर देते हैं और निकटतम वैक्सीनेशन सेंटर में भेज कर उनका वैक्सीनेशन भी कराया जा रहा है। इस कार्य में किसी भी नागरिक से किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। यह पूरी तरह से निशुल्क है। उन्होंने बताया कि इस दौरान कुछ लोगों द्वारा वैक्सीन पर संदेह व्यक्त किया जाता है इस पर भी लोगों के संदेह और आशंका को निर्मूल बताते हुए उन्हें वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित करते हैं। इसी क्रम में वैक्सीनेशन के इस महती कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए हम हाथ धुलाई के छह चरण के कार्यक्रम और मास्क का उपयोग सेनीटाइजर और भीड़ से बचने 6 गज की दूरी के साथ कोविड-19 के सावधानियों को बताने का एक जन जागरण अभियान भी चला रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More Articles Like This

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मोर्चा संभाला

बिलासपुर। प्रदेश में बढ़ते कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए महिला बाल विकास विभाग से संबंधित आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने पुनः गत वर्ष की तरह कोरोना से लोगों को बचाने मोर्चा संभाल लिया है। ज्ञातव्य हो गत 1 अप्रैल से निगम आयुक्त और महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों के संयुक्त आह्वान पर शहर भर के सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रत्येक वार्ड में कोरोनावायरस से बचाव के लिए लोगों को जागरूक अभियान के तहत सतत सचेत किया जा रहा है। साथ ही लोगों को समझाइश दी जा रही है। लोगों को डिस्टेंस बनाए रखने व सेनीटाइजर का प्रयोग करने व मास्क लगाकर एक उचित डिस्टेंस के साथ आवश्यकता पड़ने पर बाहर निकलने की सलाह दी जा रही है।
नगर के प्रत्येक वार्ड में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा सुबह आठ बजे से सायं चार बजे तक प्रत्येक घर में दस्तक देकर लोगों से मिलकर उन्हें जागरूक किया जा रहा है। व संक्रमण से बचे रहने के लिए उचित साधन अपनाने का उपाय बताया जा रहा है।
वार्ड क्रमांक 34 में अपने कार्य के दौरान सरजू बगीचा के इलाके में काम करती हुई छत्तीसगढ़ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ की प्रदेश कोषाध्यक्ष श्रीमती सुनीता सिंह ने बताया कि इस कार्य के दौरान हम लोगों को निगम से अधिकृत किया गया है। हम लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए जानकारी देकर उन्हें प्रेरित भी कर रहे हैं और पर्ची बनाकर उन्हें निकटतम वैक्सीनेशन सेंटर में टीका लगवाने के लिए भेज रहे हैं और बुजुर्ग या जिनको सहयोग की आवश्यकता है उन्हें पूरा सहयोग भी प्रदान कर रहे हैं।

श्रीमती सुनीता सिंह ने काके 1 अप्रैल से कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए शासन प्रशासन द्वारा वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है इसमें स्वास्थ्य कर्मियों के साथ साथ हम महिला बाल विकास विभाग के समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने भी मोर्चा संभाल कर शासन के साथ कंधा मिलाते हुए सामाजिक सुरक्षा की बागडोर संभाल ली है और यह बीड़ा उठाया है कि कोरोना के इस दूसरे लहर में जितना हो सके लोगों को सचेत करें और इससे बचने के लिए वैक्सीन लगाने हेतु उन्हें वैक्सीनेशन सेंटर में भेजें।

इस कार्य में प्रतिदिन प्रातः 8:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक हम सभी लोग लगभग 200 ढाई सौ घरों में घर-घर जाकर जनसंपर्क करते हुए उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेकर और उनको जो भी आवश्यकतानुसार सहयोग होता है उसे दे रहे हैं साथ ही अगर वैक्सीन नहीं लगवाया गया है तो उन्हें तत्काल उनके घर पर ही पर्ची काट कर देते हैं और निकटतम वैक्सीनेशन सेंटर में भेज कर उनका वैक्सीनेशन भी कराया जा रहा है। इस कार्य में किसी भी नागरिक से किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। यह पूरी तरह से निशुल्क है। उन्होंने बताया कि इस दौरान कुछ लोगों द्वारा वैक्सीन पर संदेह व्यक्त किया जाता है इस पर भी लोगों के संदेह और आशंका को निर्मूल बताते हुए उन्हें वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित करते हैं। इसी क्रम में वैक्सीनेशन के इस महती कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए हम हाथ धुलाई के छह चरण के कार्यक्रम और मास्क का उपयोग सेनीटाइजर और भीड़ से बचने 6 गज की दूरी के साथ कोविड-19 के सावधानियों को बताने का एक जन जागरण अभियान भी चला रहे हैं।