Friday, April 16, 2021

राजनांदगांव जिले में भी 10 अप्रैल,दोपहर 12 बजे से 19 अप्रैल, सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन

Must Read

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध मे वर्चुअल रूप से...

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रसार की...

कलेक्टर ने तैयारियो का लिया जायजा तत्काल सेवा शुरू करने के दिए निर्देश

डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और बढ़ाया जा रहा है’डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में 50 आक्सीजन बेड और...

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य

मौत के साये में गुरूजी न सुविधा, न सुरक्षा कोविड टीकाकरण कार्य राकेश खरे,बिलासपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के कार्यकारी...

रायपुर, दुर्ग के बाद अब इस जिले में संपूर्ण लॉकडाउन, व्यापारी और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर कलेक्टर ने लिया फैसला

राजनादगांव। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब प्रदेश के राजनांदगांव जिले में भी 10 अप्रैल, शनिवार दोपहर 12 बजे से 19 अप्रैल, सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है. कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कलेक्ट्रेट सभा में अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों सहित व्यापारियों के साथ बैठक कर यह फैसला लिया है. बैठक के बाद कलेक्टर ने जिले में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. इस बार का लॉकडाउन बेहद सख्त रहेगा. हालांकि लॉकडाउन के दौरान क्या बंद रहेगा और क्या- क्या खुला रहेगा. इसका विस्तृत आदेश कलेक्टर कुछ ही देर में जारी करेंगे.
बता दें कि जिले में बीते 24 घंटों में 873 नए मरीज मिलने के साथ टोटल एक्टिव संक्रमितों की संख्या 5223 हो गई है. कुल मरीजों की संख्या 26 हजार 488 हो गई है. जबकि 20 हजार 857 मरीजों के स्वस्थ हो जाने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है. जिले में अबतक 208 लोगों की मौत हो चुकी है.

बता दें कि इसके पहले कोरोना के बढ़ते मामले के चलते प्रदेश की राजधानी रायपुर और दुर्ग जिले में 10 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की जा चुकी है. हालांकि राजधानी रायपुर में 9 अप्रैल, शनिवार शाम 5 बजे से 19 अप्रैल शाम 5 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन करने का आदेश है. जबकि दुर्ग जिले में 6 अप्रैल से 14 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन जारी है.

प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या और मौत के आंकड़ों के देखते हुए प्रदेश सरकार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को अपने स्तर पर फैसला लेने के निर्देश दिए हैं. जिसके चलते जिला के कलेक्टर अपने स्तर पर लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू जैसे फैसले ले रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More Articles Like This

रायपुर, दुर्ग के बाद अब इस जिले में संपूर्ण लॉकडाउन, व्यापारी और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर कलेक्टर ने लिया फैसला

राजनादगांव। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब प्रदेश के राजनांदगांव जिले में भी 10 अप्रैल, शनिवार दोपहर 12 बजे से 19 अप्रैल, सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है. कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कलेक्ट्रेट सभा में अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों सहित व्यापारियों के साथ बैठक कर यह फैसला लिया है. बैठक के बाद कलेक्टर ने जिले में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. इस बार का लॉकडाउन बेहद सख्त रहेगा. हालांकि लॉकडाउन के दौरान क्या बंद रहेगा और क्या- क्या खुला रहेगा. इसका विस्तृत आदेश कलेक्टर कुछ ही देर में जारी करेंगे.
बता दें कि जिले में बीते 24 घंटों में 873 नए मरीज मिलने के साथ टोटल एक्टिव संक्रमितों की संख्या 5223 हो गई है. कुल मरीजों की संख्या 26 हजार 488 हो गई है. जबकि 20 हजार 857 मरीजों के स्वस्थ हो जाने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है. जिले में अबतक 208 लोगों की मौत हो चुकी है.

बता दें कि इसके पहले कोरोना के बढ़ते मामले के चलते प्रदेश की राजधानी रायपुर और दुर्ग जिले में 10 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की जा चुकी है. हालांकि राजधानी रायपुर में 9 अप्रैल, शनिवार शाम 5 बजे से 19 अप्रैल शाम 5 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन करने का आदेश है. जबकि दुर्ग जिले में 6 अप्रैल से 14 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन जारी है.

प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या और मौत के आंकड़ों के देखते हुए प्रदेश सरकार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को अपने स्तर पर फैसला लेने के निर्देश दिए हैं. जिसके चलते जिला के कलेक्टर अपने स्तर पर लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू जैसे फैसले ले रहे